राम को मांग ले मेरे प्यारे: भजन (Ram Ko Maang Le Mere Pyare)

राम को मांग ले मेरे प्यारे

उम्र भर को सहारा मिलेगा

सिर्फ इनकी शरण ही में

जिंदगी भर गुजारा मिलेगा

राम को मांग ले मेरे प्यारे



कितना दो हाथों से ले सकेगा

देने वाले की है लाख बांहें

इसकी बांह पकड़ कर तो देखो

खुशनुमा सा नजारा मिलेगा

राम को मांग ले मेरे प्यारे



खुद को तन्हा समझता है तू

कण कण में वह समाया है

दुख में आवाज देकर तो देखो

कौशल्या का दुलारा मिलेगा

राम को मांग ले मेरे प्यारे



रुप नैनो में इनको बसा लो

नाम लेते रहो चलते - फिरते

चाहे तूफां हो या भंवर हो

हर सफर में किनारा मिलेगा

राम को मांग ले मेरे प्यारे

उम्र भर को सहारा मिलेगा

ब्रजराज ब्रजबिहारी! इतनी विनय हमारी (Brajaraj Brajbihari Itni Vinay Hamari)

प्रेरक कथा: श‌िव के साथ ये 4 चीजें जरुर दिखेंगी! (Shiv Ke Sath Ye 4 Cheejen Jarur Dikhengi)

कर प्रणाम तेरे चरणों में: प्रार्थना (Kar Pranam Tere Charno Me: Morning Prarthana)

भजन: अब मैं सरण तिहारी जी (Ab Main Saran Tihari Ji)

प्रेरक कथा: नारायण नाम की महिमा! (Prerak Katha Narayan Nam Ki Mahima)

भजन: कभी धूप कभी छाँव (Kabhi Dhoop Kabhi Chhaon)

होली भजन: फाग खेलन बरसाने आये हैं, नटवर नंद किशोर (Holi Bhajan: Faag Khelan Barasane Aaye Hain Natwar Nand Kishore)

पुरुषोत्तम मास माहात्म्य कथा: अध्याय 26 (Purushottam Mas Mahatmya Katha: Adhyaya 26)

पुरुषोत्तम मास माहात्म्य कथा: अध्याय 3 (Purushottam Mas Mahatmya Katha: Adhyaya 3)

श्री गंगा स्तोत्रम् - श्री शङ्कराचार्य कृतं (Maa Ganga Stortam)

माँ शारदे कहाँ तू, वीणा बजा रही हैं: भजन (Maa Sharde Kaha Tu Veena Baja Rahi Hain)

वो कौन है जिसने हम को दी पहचान है (Wo Kon Hai Jisne Humko Di Pahachan Hai)