भजन: हरी नाम सुमिर सुखधाम, जगत में... (Hari Nam Sumir Sukhdham Jagat Mein)

हरी नाम सुमिर सुखधाम, हरी नाम सुमिर सुखधाम

जगत में जीवन दो दिन का

पाप कपट कर माया जोड़ी, गर्व करे धन का

॥ हरी नाम सुमिर सुखधाम...॥



सभी छोड़ कर चला मुसाफिर, वास हुआ वन का

सुन्दर काया देख लुभाया, लाड कर तन का

॥ सभी छोड़ कर चला मुसाफिर...॥



छूटा स्वास बिखर गयी देहि, जो माया मन का

॥ हरी नाम सुमिर सुखधाम...॥



जो बनवारी लगे प्यारी प्यारी, मौज करे मन का

काल बलि का लगे तमाचा, भूल जाये धन का

॥ हरी नाम सुमिर सुखधाम...॥



यह संसार स्वप्न की माया, मेला पल छीन का

ब्रह्मा नन्द भजन कर बन्दे, मात निरंजन का

॥ हरी नाम सुमिर सुखधाम...॥



पाप कपट कर माया जोड़ी, गर्व करे धन का

॥ हरी नाम सुमिर सुखधाम...॥



हरी नाम सुमिर सुखधाम, हरी नाम सुमिर सुखधाम

जगत में जीवन दो दिन का

कभी राम बनके, कभी श्याम बनके भजन (Bhajan: Kabhi Ram Banake Kabhi Shyam Banake)

तेरी अंखिया हैं जादू भरी: भजन (Teri Akhiya Hai Jadu Bhari)

बधाई भजन: बजे कुण्डलपर में बधाई, के नगरी में वीर जन्मे (Badhai Bhajan Baje Kundalpur Me Badayi Nagri Me Veer Janme)

पुरुषोत्तम मास माहात्म्य कथा: अध्याय 25 (Purushottam Mas Mahatmya Katha: Adhyaya 25)

पुरुषोत्तम मास माहात्म्य कथा: अध्याय 2 (Purushottam Mas Mahatmya Katha: Adhyaya 2)

पुरुषोत्तम मास माहात्म्य कथा: अध्याय 4 (Purushottam Mas Mahatmya Katha: Adhyaya 4)

भजन: करदो करदो बेडा पार राधे अलबेली सरकार (Kardo Kardo Beda Paar Radhe Albeli Sarkar)

ॐ जय जगदीश हरे आरती (Aarti: Om Jai Jagdish Hare)

उड़े उड़े बजरंगबली, जब उड़े उड़े: भजन (Ude Ude Bajrangbali, Jab Ude Ude)

भजन: लाड़ली अद्भुत नजारा, तेरे बरसाने में है (Ladli Adbhut Nazara, Tere Barsane Me Hai)

आजा माँ तेनु अखियां उडीकदीयां: भजन (Aja Maa Tenu Ankhiyan Udeekdiyan)

हे राम, हे राम: भजन (Hey Ram, Hey Ram !)