भजन: जय हो शिव भोला भंडारी! (Jai Ho Shiv Bhola Bhandari Lela Aprampar Tumhari Bhajan)

जय हो शिव भोला भंडारी,

लीला अपरंपार तुम्हारी,

लेके नाम, तेरा नाम,

तेरे धाम आ गए,

तेरे भक्त पे संकट भारी,

रक्षा कीजिये हे त्रिपुरारी,

लेके नाम, तेरा नाम,

तेरे धाम आ गए,

॥ जय हो शिव भोला भंडारी...॥



मेरी विनती सुनो हे अवनाशी,

किरपा करदो प्रभु घट-घट वासी,

अब तो लेलो खबर हमारी,

तुम हो भक्तो के हितकारी,

लेके नाम, तेरा नाम,

तेरे धाम आ गए,

॥ जय हो शिव भोला भंडारी...॥



मेरी नैया फसी प्रभु मझधार में,

कोई तुमसा दयालु न संसार में,

माना पतित बड़ा भारी,

भोले आप हो मंगलकारी,

लेके नाम, तेरा नाम,

तेरे धाम आ गए,

॥ जय हो शिव भोला भंडारी...॥



आप के चरणों की धूल जो पाएंगे,

सारे बदल वो दुःख के झट जायेगे,

तूने उसकी बिपदा टाली,

आया शरण जो नाथ तुम्हारी,

लेके नाम, तेरा नाम,

तेरे धाम आ गए,



जय हो शिव भोला भंडारी,

लीला अपरंपार तुम्हारी,

लेके नाम, तेरा नाम,

तेरे धाम आ गए,

तेरे भक्त पे संकट भारी,

रक्षा कीजिये हे त्रिपुरारी,

लेके नाम, तेरा नाम,

तेरे धाम आ गए,

सज रही मेरी अम्बे मैया - माता भजन (Saj Rahi Meri Ambe Maiya Sunahare Gote Mein)

हे दुःख भन्जन, मारुती नंदन: भजन (Bhajan: Hey Dukh Bhanjan Maruti Nandan)

धर्मराज आरती - ॐ जय धर्म धुरन्धर (Dharmraj Ki Aarti - Om Jai Dharm Dhurandar)

श्री राधे गोविंदा, मन भज ले हरी का प्यारा नाम है। (Shri Radhe Govinda Man Bhaj Le Hari Ka Pyara Naam Hai)

जय जय सुरनायक जन सुखदायक: भजन (Jai Jai Surnayak Jan Sukhdayak Prantpal Bhagvant)

हर महादेव आरती: सत्य, सनातन, सुंदर (Har Mahadev Aarti: Satya Sanatan Sundar)

पापमोचनी एकादशी व्रत कथा (Papmochani Ekadashi Vrat Katha)

भजन: ओ सांवरे हमको तेरा सहारा है (O Sanware Humko Tera Sahara Hai)

जन्माष्टमी भजन: नन्द के आनंद भयो (Nand Ke Anand Bhayo)

कर प्रणाम तेरे चरणों में: प्रार्थना (Kar Pranam Tere Charno Me: Morning Prarthana)

श्री नागेश्वर ज्योतिर्लिंग उत्पत्ति पौराणिक कथा (Shri Nageshwar Jyotirlinga Utpatti Pauranik Katha)

श्री राधिका स्तव - राधे जय जय माधव दयिते (Radhika Stava - Radhe Jai Jai Madhav Dayite)