देख लिया संसार हमने देख लिया (Dekh Liya Sansar Hamne Dekh Liya)

देख लिया संसार हमने देख लिया,

सब मतलब के यार हमने देख लिया ।



तन निरोग धन जेब में जब तक,

मन से सेवा करोगे जब तक

मानेगा परिवार हमने देख लिया,

देख लिया संसार हमने देख लिया ।

देख लिया संसार हमने देख लिया ।



जिस जिस का विश्वास किया है,

उसने हमें निरास किया है

बनकर रिश्तेदार हमने देख लिया,

देख लिया संसार हमने देख लिया ।

देख लिया संसार हमने देख लिया ।



कही चोट लगजाये न तन को,

सभी समझते है निर्धन को

गिरती हुई दीवार हमने देख लिया,

देख लिया संसार हमने देख लिया ।

देख लिया संसार हमने देख लिया ।



प्रतिभा का कुछ मोल नहीं है,

सफल सिध्द अनमोल वही है

जिसका प्रबल प्रचार हमने देख लिया,

देख लिया संसार हमने देख लिया ।

देख लिया संसार हमने देख लिया ।



संतो का संदेश यही है

मूल मंत्र हरि ओम यही है

हरि सुमिरन है सार हमने देख लिया

देख लिया संसार हमने देख लिया ।

देख लिया संसार हमने देख लिया ।



देख लिया संसार हमने देख लिया,

सब मतलब के यार हमने देख लिया ।

गोविन्द जय-जय, गोपाल जय-जय (Govind Jai Jai, Gopal Jai Jai)

दुनिया बावलियों बतलावे.. श्री श्याम भजन (Duniyan Bawaliyon Batlawe)

मनमोहन कान्हा विनती करू दिन रेन: भजन (Manmohan Kanha Vinti Karu Din Rain)

हनुमान द्वादश नाम स्तोत्रम: मंत्र (Hanuman Dwadash Naam Stotram)

भोग भजन: जीमो जीमो साँवरिया थे (Jeemo Jeemo Sanwariya Thye)

आली री मोहे लागे वृन्दावन नीको: भजन (Aali Ri Mohe Lage Vrindavan Neeko)

आरती माँ लक्ष्मीजी - ॐ जय लक्ष्मी माता (Shri Laxmi Mata - Om Jai Lakshmi Mata)

जल जाये जिह्वा पापिनी, राम के बिना: भजन (Jal Jaaye Jihwa Papini, Ram Ke Bina)

जगन्नाथ मंगल आरती (Jagannath Mangal Aarti)

आरती: श्री गणेश - शेंदुर लाल चढ़ायो (Shri Ganesh Shendur Laal Chadhayo)

श्री लक्ष्मी के 108 नाम - श्रीलक्ष्मीष्टोत्तरशतनामावलिः (108 Mata Lakshmi Names)

पुरुषोत्तम मास माहात्म्य कथा: अध्याय 3 (Purushottam Mas Mahatmya Katha: Adhyaya 3)