कृष्ण जिनका नाम है: भजन (Krishna Jinka Naam Hai Gokul Jinka Dham Hai Bhajan)

कृष्ण जिनका नाम है,

गोकुल जिनका धाम है,

ऐसे श्री भगवान को,

बारंबार प्रणाम है।



यशोदा जिनकी मैया है,

नंद जी बापैया है,

ऐसे श्री गोपाल को,

बारंबार प्रणाम है।

॥ कृष्ण जिनका नाम है...॥



लूट-लूट दधि माखन खायो,

ग्वाल-बाल संग धेनु चरायो,

ऐसे लीला-धाम को,

बारंबार प्रणाम है।

॥ कृष्ण जिनका नाम है...॥



कृष्ण जिनका नाम है,

गोकुल जिनका धाम है,

ऐसे श्री भगवान को,

बारंबार प्रणाम है।

॥ कृष्ण जिनका नाम है...॥



ध्रुपद सुता की लाज बचायो,

गजेन्द्र-गज को फ़ंद छुड़ायो,

ऐसे किरपा-धाम को,

बारंबार प्रणाम है।

॥ कृष्ण जिनका नाम है...॥



कृष्ण जिनका नाम है,

गोकुल जिनका धाम है,

ऐसे श्री भगवान को,

बारंबार प्रणाम है।

दीप प्रज्वलन मंत्र: शुभं करोति कल्याणम् आरोग्यम् (Deep Prajwalan Mantra: Shubham Karoti Kalyanam Aarogyam)

श्री राम रामेति रामेति रमे रामे मनोरमे (Shri Ram Raameti Raameti, Rame Raame Manorame)

माँ तुलसी अष्टोत्तर-शतनाम-नामावली (Tulsi Ashtottara Shatnam Namavali)

तेरी अंखिया हैं जादू भरी: भजन (Teri Akhiya Hai Jadu Bhari)

माँ शारदे! हम तो हैं बालक तेरे: भजन (Maa Sharde Ham To Balak Hain Tere)

मेरो छोटो सो लड्डू गोपाल सखी री बड़ो प्यारो है (Mero Choto So Laddu Gopal Sakhi Ri Bado Pyaro Hai)

अष्टोत्तर भैरव नामावलि (Bhairav Stotram)

मैं तो आरती उतारूँ रे संतोषी माता की - माँ संतोषी भजन (Main Toh Aarti Utaru Re Santoshi Mata Ki)

पुरुषोत्तम मास माहात्म्य कथा: अध्याय 19 (Purushottam Mas Mahatmya Katha: Adhyaya 19)

श्री शङ्कराचार्य कृतं - वेदसारशिवस्तोत्रम् (Vedsara Shiv Stotram)

भजन: दिया थाली बिच जलता है.. (Diya Thali Vich Jalta Hai)

तू प्यार का सागर है (Tu Pyar Ka Sagar Hai)