जिन पर कृपा राम करे: भजन (Jin Par Kirpa Ram Kare)

राम नाम आधार जिन्हें,

वो जल में राह बनाते हैं,

जिन पर कृपा राम करें,

वो पत्थर भी तिर जाते हैं ॥



लक्ष्य राम जी सिद्धि राम जी,

राम ही राह बनायी,

राम कर्म हैं राम ही कर्ता,

राम की सकल बड़ाई

राम काम करने वालों में,

राम की शक्ति समायी,

पृथक पृथक नामो से,

सारे काम करें रघुराई,

भक्त परायण निज भक्तो को,

सारा श्रेय दिलाते है,

जिन पर कृपा राम करें,

वो पत्थर भी तिर जाते हैं ॥



घट घट बसके आप ही अपना,

नाम रटा देते है,

नाम रटा देते है,

हर कारज में निज भक्तो का,

हाथ बटा देते है,

हाथ बटा देते है,

बाधाओं के सारे पथ्थर,

राम हटा देते है,

अपने ऊपर लेकर उनका,

भार घटा देते है,

पथ्थर क्या प्रभु तीनो लोक का,

सारा भार उठाते है,

जिन पर कृपा राम करें,

वो पत्थर भी तिर जाते हैं ॥



राम नाम आधार जिन्हें,

वो जल में राह बनाते हैं,

जिन पर कृपा राम करें,

वो पत्थर भी तिर जाते हैं ॥

श्री कृष्ण भजन (Shri Krishna Ke Bhajan)

हम तो दीवाने मुरलिया के, अजा अजा रे लाल यशोदा के (Hum Too Diwane Muraliya Ke Aaja Aaje Re Lal Yashoda Ke)

अम्बे तू है जगदम्बे काली: माँ दुर्गा, माँ काली आरती (Maa Durga Maa Kali Aarti)

अयोध्या नाथ से जाकर पवनसुत हाल कह देना: भजन (Ayodhya Nath Se Jakar Pawansut Hal Kah Dena )

श्री राम रामेति रामेति रमे रामे मनोरमे (Shri Ram Raameti Raameti, Rame Raame Manorame)

पुरुषोत्तम मास माहात्म्य कथा: अध्याय 8 (Purushottam Mas Mahatmya Katha: Adhyaya 8)

भए प्रगट कृपाला दीनदयाला: भजन (Bhaye Pragat Kripala Din Dayala)

बजरंगबली मेरी नाव चली: भजन (Bajarangabali Meri Nav Chali)

सर को झुकालो, शेरावाली को मानलो - भजन (Sar Ko Jhukalo Sherawali Ko Manalo)

सखी री बांके बिहारी से हमारी लड़ गयी अंखियाँ (Sakhi Ri Bank Bihaari Se Hamari Ladgayi Akhiyan)

भजन: शिव उठत, शिव चलत, शिव शाम-भोर है। (Shiv Uthat Shiv Chalat Shiv Sham Bhor Hai)

ॐ जय कलाधारी हरे - बाबा बालक नाथ आरती (Shri Baba Balaknath Aarti)