श्री गौमता जी की आरती (Shri Gaumata Ji Ki Aarti)

आरती श्री गैय्या मैंय्या की,

आरती हरनि विश्‍व धैय्या की ॥



अर्थकाम सद्धर्म प्रदायिनि,

अविचल अमल मुक्तिपददायिनि ।

सुर मानव सौभाग्य विधायिनि,

प्यारी पूज्य नंद छैय्या की ॥

॥ आरती श्री गैय्या मैंय्या की...॥



अख़िल विश्‍व प्रतिपालिनी माता,

मधुर अमिय दुग्धान्न प्रदाता ।

रोग शोक संकट परित्राता,

भवसागर हित दृढ़ नैय्या की ॥

॥ आरती श्री गैय्या मैंय्या की...॥



आयु ओज आरोग्य विकाशिनि,

दुख दैन्य दारिद्रय विनाशिनि ।

सुष्मा सौख्य समृद्धि प्रकाशिनि,

विमल विवेक बुद्धि दैय्या की ॥

॥ आरती श्री गैय्या मैंय्या की...॥



सेवक जो चाहे दुखदाई,

सम पय सुधा पियावति माई ।

शत्रु मित्र सबको दुखदायी,

स्नेह स्वभाव विश्‍व जैय्या की ॥

॥ आरती श्री गैय्या मैंय्या की...॥



आरती श्री गैय्या मैंय्या की,

आरती हरनि विश्‍व धैय्या की ॥

कार्तिक मास माहात्म्य कथा: अध्याय 8 (Kartik Mas Mahatmya Katha: Adhyaya 8)

श्री जगन्नाथ अष्टकम (Shri Jagannath Ashtakam)

गुरु मेरी पूजा, गुरु गोबिंद, गुरु मेरा पारब्रह्म: भजन (Guru Meri Puja Guru Mera Parbrahma)

श्री विष्णु मत्स्य अवतार पौराणिक कथा (Shri Vishnu Matsyavatar Pauranik Katha)

शिवाष्ट्कम्: जय शिवशंकर, जय गंगाधर.. पार्वती पति, हर हर शम्भो (Shivashtakam: Jai ShivShankar Jai Gangadhar, Parvati Pati Har Har Shambhu)

करवा चौथ व्रत कथा: साहूकार के सात लड़के, एक लड़की की कहानी (Karwa Chauth Vrat Katha)

गोविंद चले चरावन धेनु (Govind Chale Charaavan Dhenu)

जागो वंशीवारे ललना, जागो मोरे प्यारे: भजन (Jago Bansivare Lalna Jago More Pyare)

भजन: अयोध्या करती है आव्हान.. (Ayodhya Karti Hai Awhan)

लड्डू गोपाल मेरा, छोटा सा है लला मेरा.. (Laddu Gopal Mera Chota Sa Hai Lalaa)

हनुमान द्वादश नाम स्तोत्रम: मंत्र (Hanuman Dwadash Naam Stotram)

कार्तिक मास माहात्म्य कथा: अध्याय 1 (Kartik Mas Mahatmya Katha: Adhyaya 1)