हम राम जी के, राम जी हमारे हैं। (Hum Ram Ji Ke Ram Ji Hamare Hain)

हम राम जी के, राम जी हमारे हैं।

हम राम जी के, राम जी हमारे हैं।



मेरे नयनो के तारे है।

सारे जग के रखवाले है।

॥ हम रामजी के...॥



एक भरोसो एक बल, एक आस विश्वास।

एक राम घनश्याम हित, जातक तुलसी दास।

॥ हम रामजी के...॥



जो लाखो पापियों को तारे है।

जो अधमन को उद्धारे है।

हम उनकी शरण पधारे है।

॥ हम रामजी के...॥



शरणागत आर्त निवारे है।

हम इनके सदा सहारे है।

॥ हम रामजी के...॥



गणिका और गिद्ध उद्धारे है।

हम खड़े उन्हीके के द्वारे है।

॥ हम रामजी के...॥



हम राम जी के, राम जी हमारे हैं।

हम राम जी के, राम जी हमारे हैं।




Read Also

»
सीता नवमी
|
राम नवमी
|
हनुमान जयंती

»
आरती: ॐ जय जगदीश हरे
|
आरती कीजै श्री रघुवर जी की
|
आरती कीजै रामचन्द्र जी

»
श्री राम स्तुति: श्री रामचन्द्र कृपालु भजुमन!
|
मेरे राम मेरे घर आएंगे

श्री हनुमान-बालाजी भजन (Shri Hanuman-Balaji Bhajan)

रामा रामा रटते रटते, बीती रे उमरिया: भजन (Rama Rama Ratate Ratate)

कृपा की न होती जो, आदत तुम्हारी: भजन (Kirpa Ki Na Hoti Jo Addat Tumhari)

श्री नारायण कवच (Shri Narayan Kavach)

सोमवार व्रत कथा (Somvar Vrat Katha)

कार्तिक मास माहात्म्य कथा: अध्याय 2 (Kartik Mas Mahatmya Katha: Adhyaya 2)

अम्बे तू है जगदम्बे काली: माँ दुर्गा, माँ काली आरती (Maa Durga Maa Kali Aarti)

सकट चौथ व्रत कथा: एक साहूकार और साहूकारनी (Sakat Chauth Pauranik Vrat Katha - Ek Sahukar Aur Ek Sahukarni)

होली भजन: फाग खेलन बरसाने आये हैं, नटवर नंद किशोर (Holi Bhajan: Faag Khelan Barasane Aaye Hain Natwar Nand Kishore)

दुनिया से मैं हारा तो आया तेरे द्वार: भजन (Duniya Se Jab Main Hara Too Aaya Tere Dwar)

सकट चौथ पौराणिक व्रत कथा - श्री महादेवजी पार्वती (Sakat Chauth Pauranik Vrat Katha - Shri Mahadev Parvati)

जिसको जीवन में मिला सत्संग है (Jisko jivan Main Mila Satsang Hai)