हम राम जी के, राम जी हमारे हैं। (Hum Ram Ji Ke Ram Ji Hamare Hain)

हम राम जी के, राम जी हमारे हैं।

हम राम जी के, राम जी हमारे हैं।



मेरे नयनो के तारे है।

सारे जग के रखवाले है।

॥ हम रामजी के...॥



एक भरोसो एक बल, एक आस विश्वास।

एक राम घनश्याम हित, जातक तुलसी दास।

॥ हम रामजी के...॥



जो लाखो पापियों को तारे है।

जो अधमन को उद्धारे है।

हम उनकी शरण पधारे है।

॥ हम रामजी के...॥



शरणागत आर्त निवारे है।

हम इनके सदा सहारे है।

॥ हम रामजी के...॥



गणिका और गिद्ध उद्धारे है।

हम खड़े उन्हीके के द्वारे है।

॥ हम रामजी के...॥



हम राम जी के, राम जी हमारे हैं।

हम राम जी के, राम जी हमारे हैं।




Read Also

»
सीता नवमी
|
राम नवमी
|
हनुमान जयंती

»
आरती: ॐ जय जगदीश हरे
|
आरती कीजै श्री रघुवर जी की
|
आरती कीजै रामचन्द्र जी

»
श्री राम स्तुति: श्री रामचन्द्र कृपालु भजुमन!
|
मेरे राम मेरे घर आएंगे

तेरे पूजन को भगवान, बना मन मंदिर आलीशान: भजन (Tere Pujan Ko Bhagwan)

आरती: श्री शनिदेव - जय जय श्री शनिदेव (Shri Shani Dev Ji)

भजन: अमृत बेला गया आलसी सो रहा बन आभागा ! (Bhajan: Amrit Bela Geya Aalasi So Raha Ban Aabhaga)

वो है जग से बेमिसाल सखी: भजन (Woh Hai Jag Se Bemisal Sakhi)

भजन: बड़ी देर भई, कब लोगे खबर मोरे राम (Bhajan: Badi Der Bhai Kab Loge Khabar More Ram)

भजन: मेरी विनती यही है! राधा रानी (Meri Binti Yahi Hai Radha Rani)

॥श्रीमहालक्ष्मीस्तोत्रम् विष्णुपुराणान्तर्गतम्॥ (Mahalakshmi Stotram From Vishnupuran)

श्री रुद्राष्टकम् (Shri Rudrashtakam - Goswami Tulasidas Krat)

भगवान श्री चित्रगुप्त जी की आरती (Bhagwan Shri Chitragupt Aarti)

भेजा है बुलावा, तूने शेरा वालिए: भजन (Bheja Hai Bulava Tune Shera Waliye)

येषां न विद्या न तपो न दानं... (Yeshaan Na Vidya Na Tapo Na Danan)

प्रेम मुदित मन से कहो, राम राम राम: भजन (Prem Mudit Mann Se Kaho, Ram Ram Ram)