दे दो अंगूठी मेरे प्राणों से प्यारी: भजन (De Do Anguthi Mere Prano Se Pyari)

दे दो अंगूठी मेरे प्राणों से प्यारी

इसे लाया है कौन, इसे लाया है कौन

मेरे रघुवर की, रघुबर की




मात भी छोड़े, मैंने पिता भी छोड़े


छोड़ी जनकपुरी, छोड़ी जनकपुरी,


मेरे बाबुल की, बाबुल की



दे दो अंगूठी मेरे प्राणों से प्यारी

इसे लाया है कौन, इसे लाया है कौन

मेरे रघुवर की, रघुबर की




संग भी छोड़ा, मैंने साथ भी छोड़ा


छोड़ी संग सहेली, छोड़ी संग सहेली


मेरे बचपन की, बचपन की



दे दो अंगूठी मेरे प्राणों से प्यारी

इसे लाया है कौन, इसे लाया है कौन

मेरे रघुवर की, रघुबर की




सास भी छोड़े मैंने सुसर भी छोड़े


छोड़ी अवधपुरी, छोड़ी अवधपुरी,


मेरे ससुरा की, ससुरा की



दे दो अंगूठी मेरे प्राणों से प्यारी

इसे लाया है कौन, इसे लाया है कौन

मेरे रघुवर की, रघुबर की




राम भी छोड़े मैंने लक्ष्मण भी छोड़े


छोड़ी पंचवटी, छोड़ी पंचवटी


मेरे रघुवर की, रघुवर की



दे दो अंगूठी मेरे प्राणों से प्यारी

इसे लाया है कौन, इसे लाया है कौन

मेरे रघुवर की, रघुबर की




इतने मे हनुमत बोले सीता से,


इतने मे हनुमत बोले सीता से,


इसे मैं लेके आया, इसे मैं लेके आया



दे दो अंगूठी मेरे प्राणों से प्यारी

इसे लाया है कौन, इसे लाया है कौन

मेरे रघुवर की, रघुबर की

कामिका एकादशी व्रत कथा! (Kamika Ekadashi Vrat Katha)

माँ बगलामुखी अष्टोत्तर-शतनाम-स्तोत्रम् (Maa Baglamukhi Ashtottara Shatnam Stotram)

श्री हनुमान जी आरती (Shri Hanuman Ji Ki Aarti)

श्री कुबेर अष्टोत्तर शतनामावली - 108 नाम (Shri Kuber Ashtottara Shatanamavali - 108 Names)

अन्नपूर्णा स्तोत्रम् - नित्यानन्दकरी वराभयकरी (Annapoorna Stotram - Nitya-nanda Karee Vara Abhaya Karee)

विसर नाही दातार अपना नाम देहो: शब्द कीर्तन (Visar Nahi Datar Apna Naam Deho)

बड़ा प्यारा सजा है तेरा द्वार भवानी: भजन (Pyara Saja Hai Tera Dwar Bhawani)

पुरुषोत्तम मास माहात्म्य कथा: अध्याय 22 (Purushottam Mas Mahatmya Katha: Adhyaya 22)

वो है जग से बेमिसाल सखी: भजन (Woh Hai Jag Se Bemisal Sakhi)

भजन: हर बात को भूलो मगर.. (Har Baat Ko Tum Bhulo Bhale Maa Bap Ko Mat Bhulna)

तेरे दरबार मे मैया खुशी मिलती है: भजन (Tere Darbar Mein Maiya Khushi Milti Hai)

विधाता तू हमारा है: प्रार्थना (Vidhata Tu Hamara Hai: Prarthana)