आरती युगलकिशोर की कीजै! (Aarti Shri Yugal Kishoreki Keejai)

आरती युगलकिशोर की कीजै।

तन मन धन न्योछावर कीजै॥



गौरश्याम मुख निरखन लीजै।

हरि का रूप नयन भरि पीजै॥



रवि शशि कोटि बदन की शोभा।

ताहि निरखि मेरो मन लोभा॥



ओढ़े नील पीत पट सारी।

कुंजबिहारी गिरिवरधारी॥



फूलन सेज फूल की माला।

रत्न सिंहासन बैठे नंदलाला॥



कंचन थार कपूर की बाती।

हरि आए निर्मल भई छाती॥



श्री पुरुषोत्तम गिरिवरधारी।

आरती करें सकल नर नारी॥



नंदनंदन बृजभान किशोरी।

परमानंद स्वामी अविचल जोरी॥






Read Also

»
श्री कृष्ण जन्माष्टमी - Shri Krishna Janmashtami
|
राधाष्टमी - Radhashtami
|
भोग प्रसाद

»
दिल्ली मे कहाँ मनाएँ श्री कृष्ण जन्माष्टमी।

»
दिल्ली और आस-पास के प्रसिद्ध श्री कृष्ण मंदिर।
|
जानें दिल्ली मे ISKCON मंदिर कहाँ-कहाँ हैं?
|
दिल्ली के प्रमुख श्री कृष्ण प्रणामी मंदिर।

»
ब्रजभूमि के प्रसिद्ध मंदिर!
|
भारत के चार धाम

»
आरती: श्री बाल कृष्ण जी
|
भोग आरती: श्रीकृष्ण जी
|
बधाई भजन: लल्ला की सुन के मै आयी!

मंत्र: महामृत्युंजय मंत्र, संजीवनी मंत्र, त्रयंबकम मंत्र (Mahamrityunjay Mantra)

शिवाष्ट्कम्: जय शिवशंकर, जय गंगाधर.. पार्वती पति, हर हर शम्भो (Shivashtakam: Jai ShivShankar Jai Gangadhar, Parvati Pati Har Har Shambhu)

संकटा माता आरती (Sankata Mata Aarti)

आ लौट के आजा हनुमान: भजन (Bhajan: Aa Laut Ke Aaja Hanuman)

हर महादेव आरती: सत्य, सनातन, सुंदर (Har Mahadev Aarti: Satya Sanatan Sundar)

कीर्तन रचो है म्हारे आंगने - भजन (Kirtan Racho Hai Mhare Angane)

अथ श्री बृहस्पतिवार व्रत कथा | बृहस्पतिदेव की कथा (Shri Brihaspatidev Ji Vrat Katha)

भजन: हम सब मिलके आये, दाता तेरे दरबार (Hum Sab Milke Aaye Data Tere Darbar)

भजन: घर आये राम लखन और सीता (Ghar Aaye Ram Lakhan Aur Sita)

देवोत्थान / प्रबोधिनी एकादशी व्रत कथा (Devutthana Ekadashi Vrat Katha)

भजन: किशोरी कुछ ऐसा इंतजाम हो जाए.. (Kishori Kuch Aisa Intazam Ho Jaye)

जय राधा माधव, जय कुन्ज बिहारी: भजन (Jai Radha Madhav, Jai Kunj Bihari)