ऐसे मेरे मन में विराजिये: भजन (Aaise Mere Maan Main Virajiye)

ऐसे मेरे मन में विराजिये

ऐसे मेरे मन में विराजिये

कि मै भूल जाऊं काम धाम

गाऊं बस तेरा नाम

भूल जाऊं काम धाम

गाऊं बस तेरा नाम

सीता राम सीता राम, सीता राम सीता राम

सीता राम सीता राम, सीता राम सीता राम

॥ ऐसे मेरे मन में विराजिये...॥



तू चंदा हम है चकोर,

दर्शन को मचाते है शोर।

तेरी कृपा की नजर,

अब हो जाये अपनी भी ओर।



करुणा करिये मत लाजिए,

कि मै भूल जाऊं काम धाम

गाऊं बस तेरा नाम

भूल जाऊं काम धाम

गाऊं बस तेरा नाम

सीता राम सीता राम, सीता राम सीता राम

सीता राम सीता राम, सीता राम सीता राम

ऐसे मेरे मन मैं विराजिये, ऐसे मेरे मन मैं..



प्रीती का सच्चा सुरूर,

जिन्हें तुमने दिया है हुज़ूर।

भक्ति की गहराईयाँ

पा लेंगे वो प्रेमी जरूर।



चरण कमल चित साजिए

कि मै भूल जाऊं काम धाम

गाऊं बस तेरा नाम

भूल जाऊं काम धाम

गाऊं बस तेरा नाम

सीता राम सीता राम, सीता राम सीता राम

सीता राम सीता राम, सीता राम सीता राम

ऐसे मेरे मन मैं विराजिये, ऐसे मेरे मन मैं..



जीने का एक फल यही,

जिसने जाना है ज्ञानी वही।

प्रीतम हृदय में बसे

बात संतो ने इतनी कही।



सिया संग प्यारी छवि छाजिये।

कि मै भूल जाऊं काम धाम

गाऊं बस तेरा नाम

भूल जाऊं काम धाम

गाऊं बस तेरा नाम

सीता राम सीता राम, सीता राम सीता राम

सीता राम सीता राम, सीता राम सीता राम



ऐसे मेरे मन में विराजिये

ऐसे मेरे मन में विराजिये

कि मै भूल जाऊं काम धाम

गाऊं बस तेरा नाम

भूल जाऊं काम धाम

गाऊं बस तेरा नाम

सीता राम सीता राम, सीता राम सीता राम

सीता राम सीता राम, सीता राम सीता राम

भजन: द्वार पे गुरुदेव के हम आगए (Dwar Pe Gurudev Ke Ham Aagaye)

हो लाल मेरी पत रखियो बला - दमादम मस्त कलन्दर: भजन (O Lal Meri Pat Rakhiyo Bala Duma Dum Mast Kalandar)

आदियोगी - दूर उस आकाश की गहराइयों में (Adiyogi The Source Of Yoga)

जल जाये जिह्वा पापिनी, राम के बिना: भजन (Jal Jaaye Jihwa Papini, Ram Ke Bina)

अगर श्याम सुन्दर का सहारा ना होता (Agar Shyam Sundar Ka Sahara Na Hota)

भजन: अयोध्या करती है आव्हान.. (Ayodhya Karti Hai Awhan)

तू मेरा राखा सबनी थाई: गुरुवाणी शब्द कीर्तन (Tu Mera Rakha Sabni Thai)

आरती: श्री गणेश - शेंदुर लाल चढ़ायो (Shri Ganesh Shendur Laal Chadhayo)

हरि का भजन करो, हरि है तुम्हारा! (Hari Ka Bhajan Karo, Hari Hai Tumhara!)

मेरा हाथ पकड़ ले रे, कान्हा: भजन (Bhajan Mera Haath Pakad Le Re, Kanha)

दैनिक हवन-यज्ञ विधि! (Dainik Havan Yagy Vidhi)

श्री सोमनाथ ज्योतिर्लिंग प्रादुर्भाव पौराणिक कथा! (Shri Somnath Jyotirlinga Utpatti Pauranik Katha)