बड़ा प्यारा सजा है तेरा द्वार भवानी: भजन (Pyara Saja Hai Tera Dwar Bhawani)

दरबार तेरा दरबारों में,

एक ख़ास एहमियत रखता है।

उसको वैसा मिल जाता है,

जो जैसी नियत रखता है॥



बड़ा प्यारा सजा है तेरा द्वार भवानी।

भक्तों की लगी है कतार भवानी॥



ऊँचे पर्बत भवन निराला।

आ के शीश निवावे संसार, भवानी॥

प्यारा सजा है द्वार भवानी॥



जगमग जगमग ज्योत जगे है।

तेरे चरणों में गंगा की धार, भवानी॥

तेरे भक्तों की लगी है कतार, भवानी॥



लाल चुनरिया लाल लाल चूड़ा।

गले लाल फूलों के सोहे हार, भवानी॥

प्यारा सजा है द्वार, भवानी॥



सावन महीना मैया झूला झूले।

देखो रूप कंजको का धार भवानी॥

प्यारा सजा है द्वार भवानी॥



पल में भरती झोली खाली।

तेरे खुले दया के भण्डार, भवानी॥

तेरे भक्तों की लगी है कतार, भवानी॥



लक्खा को है तेरा सहारा माँ।

करदे अपने सरल का बेडा पार, भवानी॥

प्यारा सजा है द्वार भवानी॥

आर्य समाज प्रेरक भजन (Arya Samaj Motivational Bhajans)

छोटी छोटी गैया, छोटे छोटे ग्वाल (Choti Choti Gaiyan Chote Chote Gwal)

इस योग्य हम कहाँ हैं, गुरुवर तुम्हें रिझायें: भजन (Is Yogya Ham Kahan Hain, Guruwar Tumhen Rijhayen)

तेरी अंखिया हैं जादू भरी: भजन (Teri Akhiya Hai Jadu Bhari)

भजन: द्वार पे गुरुदेव के हम आगए (Dwar Pe Gurudev Ke Ham Aagaye)

बधाई भजन: बजे कुण्डलपर में बधाई, के नगरी में वीर जन्मे (Badhai Bhajan Baje Kundalpur Me Badayi Nagri Me Veer Janme)

मैं दो-दो माँ का बेटा हूँ: भजन (Main Do-Do Maa Ka Beta Hun)

आओ भोग लगाओ प्यारे मोहन: भोग आरती (Aao Bhog Lagao Mere Mohan: Bhog Aarti)

करवा चौथ व्रत कथा: द्रौपदी को श्री कृष्ण ने सुनाई कथा! (Karwa Chauth Vrat Katha)

भजन: बांटो बांटो मिठाई मनाओ ख़ुशी (Banto Banto Mithai Manao Khushi)

बेटा बुलाए झट दौड़ी चली आए माँ: भजन (Beta Bulaye Jhat Daudi Chali Aaye Maa)

हर महादेव आरती: सत्य, सनातन, सुंदर (Har Mahadev Aarti: Satya Sanatan Sundar)