देना हो तो दीजिए जनम जनम का साथ। (Dena Ho To Dijiye Janam Janam Ka Sath)

देना हो तो दीजिए जनम जनम का साथ।

अब तो कृपा कर दीजिए, जनम जनम का साथ।

मेरे सर पर रख बनवारी अपने दोनों यह हाथ॥



देने वाले श्याम प्रभु से धन और दौलत क्या मांगे।

श्याम प्रभु से मांगे तो फिर नाम और इज्ज़त क्या मांगे।

मेरे जीवन में अब कर दे तू कृपा की बरसात॥



श्याम तेरे चरणों की धूलि धन दौलत से महंगी है।

एक नज़र कृपा की बाबा नाम इज्ज़त से महंगी है।

मेरे दिल की तम्मना यही है, करूँ सेवा तेरी दिन रात॥



झुलस रहें है गम की धुप में, प्यार की छईया कर दे तू।

बिन माझी के नाव चले ना, अब पतवार पकड़ ले तू।

मेरा रास्ता रौशन कर दे, छायी अन्धिआरी रात॥



सुना है हमने शरणागत को अपने गले लगाते हो।

ऐसा हमने क्या माँगा जो देने से घबराते हो।

चाहे जैसे रख बनवारी, बस होती रहे मुलाक़ात॥

जबसे बरसाने में आई, मैं बड़ी मस्ती में हूँ! (Jab Se Barsane Me Aayi Main Badi Masti Me Hun)

भजन: कभी भूलू ना.. मेरे राधा रमण (Kabhi Bhoolun Na Radha Raman Mere)

पुरुषोत्तम मास माहात्म्य कथा (Purushottam Mas Mahatmya Katha)

तेरे दरबार मे मैया खुशी मिलती है: भजन (Tere Darbar Mein Maiya Khushi Milti Hai)

श्री सोमनाथ ज्योतिर्लिंग प्रादुर्भाव पौराणिक कथा! (Shri Somnath Jyotirlinga Utpatti Pauranik Katha)

कहा प्रभु से बिगड़ता क्या: भजन (Kaha Prabhu Se Bigadta Kya)

श्री अष्टलक्ष्मी स्तोत्रम (Ashtalakshmi Stothram)

श्री दशावतार स्तोत्र: प्रलय पयोधि-जले (Dashavtar Stotram: Pralay Payodhi Jale)

ॐ जय जगदीश हरे आरती (Aarti: Om Jai Jagdish Hare)

भजन: बांके बिहारी कृष्ण मुरारी (Banke Bihari Krishan Murari)

दे प्रभो वरदान ऐसा: प्रार्थना (De Prabhu Vardan Yesa: Prarthana)

भजन: गणपति आज पधारो, श्री रामजी की धुन में (Ganapati Aaj Padharo Shri Ramaji Ki Dhun Me)