जानिए कैसा होगा आपका वैवाहिक जीवन

जानने के लिए यहां क्लिक करें

.


किसी भी जातक की कुंडली का सप्तम भाव विवाह और वैवाहिक जीवन से संबंधित होता है। इस भाव के आधार पर किसी भी व्यक्ति के वैवाहिक जीवन की भविष्यवाणी की जा सकती है। यहां जानिए सप्तम भाव के आधार किसी स्त्री का वैवाहिक जीवन कैसा हो सकता है –

मेष –


यदि किसी कुंडली का सप्तम भाव मेष राशि का है तो उसका जीवन साथी भूमि, भवन और कई सम्पतियों का मालिक होता है। इनका वैवाहिक जीवन सुखी और समृद्धिशाली रहता है।

वृष –


जिनकी कुंडली के सप्तम भाव में वृष राशि स्तिथ है, उनका पति सुन्दर और गुणवान होता है। वृष राशि का सप्तम भाव होने से साथी मीठा बोलने वाला और पत्नी की बात मानने वाला होता है।

मिथुन –


यदि किसी की कुंडली में सप्तम भाव मिथुन राशि का है तो उस कन्या का पति दिखने में सामान्य, समझदार और अच्छे विचारों वाला होता है। इनका जीवन साथी चतुर व्यवसायी होता है।

कर्क –


जिनकी कुंडली का सप्तम भाव कर्क राशि का है, उनका जीवन साथी सुन्दर रंग रूप वाला होता है। इनका पति घर-परिवार और समाज में मान-सम्मान प्राप्त करता है।

सिंह –


यदि कुंडली का सातवां भाव सिंह राशि का हो तो स्त्री का पति खुद की बात मनवाने वाला होता है, लेकिन ईमानदार होता है। ईमानदारी के कारण समाज में प्रतिष्ठा मिलती है।

कन्या –


जिस लड़की की कुंडली के सप्तम भाव में कन्या राशि हो, उसका पति आकर्षक व्यक्तित्व वाला और गुणवान होता है। ऐसी लड़की का जीवन विवाह के बाद और अधिक अच्छा हो जाता है।

तुला –


किसी की कुंडली में सप्तम भाव तुला राशि का हो तो इस स्थान का स्वामी शुक्र है। शुक्र के प्रभाव से इनका पति शिक्षित और सुन्दर होगा। जीवन साथी हर समस्या में पत्नी का साथ देने वाला होगा।

वृश्चिक –


जिन लड़कियों की कुंडली का सप्तम भाव वृश्चिक राशि का है, उन्हें राशि स्वामी मंगल के प्रभाव से सुशिक्षित पति की प्राप्ति होती है। इनका जीवन साथी कठिन परिश्रम करने वाला होता है।

धनु –


जिस स्त्री की कुंडली में सप्तम भाव धनु राशि का है, उसका पति स्वाभिमानी होता है। ऐसी कन्या का जीवन साथी सामान्य परिवार का होता है और सामान्य जीवन व्यतीत करता है।

मकर –


यदि किसी लड़की की कुंडली का सप्तम भाव मकर राशि का है तो उसका जीवन साथी धार्मिक कार्यों में अधिक रूचि रखता है। इनका विश्वास दिव्य शक्तियों में अधिक रहता है।

कुम्भ –


यदि कुंडली का सप्तम भाव कुम्भ राशि का है तो जीवन साथी आस्थावान और सभ्य होता है। ऐसी लड़की का वैवाहिक जीवन भी मधुर होता है और सभी सुख-सुविधाओं वाला होता है।

मीन –


कुंडली का सप्तम भाव मीन राशि का होने पर स्त्री का पति गुणवान और धार्मिक होता है। ये लोग आकर्षक व्यक्तित्व वाले होते हैं। कार्य क्षेत्र में शिखर तक पहुँचते हैं और परिवार में सम्मान पाते है।

इस तरह से जीत लें अपने जीवनसाथी का दिल

रिश्ता बचाना चाहते हैं तो अपने पार्टनर से भूलकर भी मत कहना ये बातें

जन्म के महीने से जानें प्यार के बारे में चौकाने वाली बातें

अगर आपकी रिलेशनशिप में हो रहा है ऐसा कुछ तो हो सकता है 'Break up', तुरंत संभल जाओ

जानिए क्या कहता है आपका जन्म 'वार' आपके व्यक्तित्व के बारे में...

भूलकर भी 1 अप्रैल से 30 अप्रैल तक दिन में ना सोएं, इसके साथ ही ध्यान में रखें ये 4 बातें

लिव इन रिलेशनशिप मैं रहने के फायदे

प्यार में सबसे ज्यादा ईमानदार होते हैं इन 2 राशियों के लोग

नाम के पहले अक्षर से जानिए कैसे हैं आप...

सिंगल रहने के भी हैं अपने फायदे

पिछले जन्म में कैसे थे आप, राशि बता देगी पूरी बात

लड़कियों की इन 10 'लड़कों जैसी हरकतों' के दीवाने हैं लड़के

इस तरह से जीत लें अपने जीवनसाथी का दिल

रिश्ता बचाना चाहते हैं तो अपने पार्टनर से भूलकर भी मत कहना ये बातें

जन्म के महीने से जानें प्यार के बारे में चौकाने वाली बातें

अगर आपकी रिलेशनशिप में हो रहा है ऐसा कुछ तो हो सकता है 'Break up', तुरंत संभल जाओ

जानिए क्या कहता है आपका जन्म 'वार' आपके व्यक्तित्व के बारे में...

भूलकर भी 1 अप्रैल से 30 अप्रैल तक दिन में ना सोएं, इसके साथ ही ध्यान में रखें ये 4 बातें

लिव इन रिलेशनशिप मैं रहने के फायदे

प्यार में सबसे ज्यादा ईमानदार होते हैं इन 2 राशियों के लोग

नाम के पहले अक्षर से जानिए कैसे हैं आप...

सिंगल रहने के भी हैं अपने फायदे

पिछले जन्म में कैसे थे आप, राशि बता देगी पूरी बात

लड़कियों की इन 10 'लड़कों जैसी हरकतों' के दीवाने हैं लड़के